नाहरगढ़ दुर्ग (जयपुर, राजस्थान)

👉 नाहरगढ़ दुर्ग (जयपुर, राजस्थान)-

👉 स्थित-
✍ नाहरगढ़ दुर्ग राजस्थान के जयपुर जिले में स्थित है।

👉 श्रेणी- 
✍ नाहरगढ़ दुर्ग दुर्गो की गिरि श्रेणी में शामिल है।

👉 निर्माण-
✍ नाहरगढ़ दुर्ग का निर्माण सवाई जयसिंह ने करवाया था।
✍ नाहरगढ़ दुर्ग के निर्माण का मुख्य उद्देश्य मराठा आक्रमण से बचना था।

👉 वास्तविक नाम-
✍ नाहरगढ़ दुर्ग का वास्तविक नाम सुदर्शन गढ़ था।

👉 नामकरण-
✍ नाहरगढ़ दुर्ग का नामकरण नाहरसिंह भोमिया के नाम पर किया गया था।

👉 नाहरगढ़ दुर्ग के उपनाम-
1. जयपुर का मुकुट मणी।
2. नौ महलो वाला दुर्ग।
3. बीठली दुर्ग।

👉 नाहरगढ़ दुर्ग की विशेषता-
✍ नाहरगढ़ दुर्ग में सवाई माधौसिंह ने अपनी 9 प्रेमिकाओ हेतु एक जैसे 9 महलो का निर्माण करवाया था।

👉 गैटोर की छतरीया-
✍ गैटोर की छतरीया जयपुर के कछवा शासको की छतरी है।
✍ गैटोर की छतरीया नाहरगढ़ दुर्ग में ही स्थित है।

👉 जैविक उद्यान (Biological Park)-
✍ यह राजस्थान का पहला जैविक उधान है।
✍ जैविक उद्यान की स्थापना नाहरगढ़ किले/पहाड़ीयो मे कि गयी है।

No comments:

Post a comment

पोस्ट पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद, यदि आपको ये पोस्ट अच्छी लगी तो अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें और अपना कीमती सुझाव देने के लिए यहां कमेंट करें, पोस्ट से संबंधित आपका किसी भी प्रकार का सवाल जवाब हो तो कमेंट में पूछ सकते है।