हाड़ौती के चौहान

👉 हाड़ौती के चौहान (चौहान वंश)
✍ हाड़ौती में वर्तमान कोटा, बूंदी, बारा, झालावाड़ के क्षेत्र आते है।
✍ राजस्थान का दक्षिणी-पूर्वी भाग (कोटा, बूंदी, बारा, झालावाड़) हाड़ौती कहलाता है।
✍ पूर्व में हाड़ौती क्षेत्र बूंदी में ही आता था।
✍ महाभारत काल में यहाँ मत्स्य (मीणा) जाति निवास करती थी।
✍ बूंदी का यह नाम  यहाँ के शासक बूँदा मीणा के नाम पर पड़ा था।
✍ 1342 ई. में हाड़ा चौहान देवा ने मीणाओं को पराजित कर चौहान वंश का शासन स्थापित किया।



✍ राजस्थान में मराठों का सर्वप्रथम प्रवेश बूंदी में हुआ था।
✍ 1743 ई. में बूंदी के शासक बुद्ध सिंह की कच्छावा रानी अमरकंवरी ने अपने पुत्र उम्मेद सिंह के पक्ष में मराठा सरदार होल्कर व राणोजी सिंधिया को आमंत्रित किया।
✍ 1818 ई. में बूंदी के शासक विष्ण सिंह ने अंग्रेजो से सहायक संधि की।
✍ 1569 ई. में बूंदी के शासक सुरजन सिंह ने अकबर से संधि की।
✍ मुगल बादशाह फर्रुखशियर के समय बंदी नरेश बुद्ध सिंह द्वारा जयपुर के जयसिंह के खिलाफ नहीं जाने पर बूंदी का नाम फर्रुखाबाद रखा तथा शासन कोटा नरेश दिया।


2 comments:

कृपया कमेंट में कोई भी लिंक ना डालें