जयसमंद झील (उदयपुर, राजस्थान)

👉 जयसमंद झील-
✍ स्थित- उदयपुर (राजस्थान)
✍ प्रकार- कृत्रिम झील
✍ उपनाम- ढेबर झील, जलतरो की बस्ती, सात टापुओं वाली झील
✍ निर्माता- महाराणा जयसिंह (उदयपुर शासक)
✍ निर्माण वर्ष- 1685 से 1691 ई. तक
✍ लम्बाई- 15 किमी.
✍ चौड़ाई- 2 से 8 किमी. तक
✍ क्षेत्रफल- 55 वर्ग किमी.
✍ विशेषताएं-
✍ यह झील राजस्थान की सबसे बड़ी कृत्रिम झील है।
✍ यह राजस्थान की सबसे बड़ी मीठे पानी की झील है।
✍ जयसमंद झील एशिया महाद्वीप की दुसरी सबसे बड़ी व सबसे पुरानी कृत्रिम झील है।
✍ एशिया महाद्वीप की सबसे बड़ी व सबसे पुरानी कृत्रिम झील गोविंद सागर झील (भाखड़ा बांध, हिमाचल प्रदेश) है।
✍ वर्तमान में इस झील में गोमती, झामरी, रुपारेल जैसी नदियों का पानी आता है।
✍ इस झील में सर्वाधिक जलिय जीव पाये जाने के कारण इसे जलचरो की बस्ती भी कहते है।
✍ इस झील में सात टापू स्थित होने के कारण इसे सात टापुओं वाली झील कहते है।
✍ इन सात टापुओं पर सर्वाधिक भील तथा मीणा जाति के लोग रहते है।
✍ जयसमंद झील का सबसे बड़े टापू का नाम बाबा का भागड़ा है।
✍ जयसमंद झील के सबसे छोटे टापू का नाम प्यारी है।

✍ ढेबर झील-
✍ महाराणा जयसिंह ने ढेबर नामक जगह पर गोमती, रुपारेल, झामरी जैसी नदियों का पानी रोक कर जयसमंद झील का निर्माण करवाया था इसीलिए इसे ढेबर झील भी कहते है।

✍ नर्मदेश्वर महादेव मंदिर-
✍ निर्माता- महाराणा जयसिंह
✍ यह मंदिर जयसमंद झील के पास उदयपुर में स्थित है।

✍ लसाड़िया का पठार-
✍ यह पठार जयसमंद झील के पास उदयपुर में स्थित है।

✍ रूठी रानी-
✍ वास्तविक नाम- उमादे भटियाणी
✍ उपनाम- रूठी रानी, मारवाड़ की स्वाभिमानी रानी
✍ पिता- राव लूणकरण (जैसलमेर शासक)
✍ पति- मालदेव (मारवाड़ शासक)
✍ उमादे भटियाणी अपने पति मालदेव से रूठ कर अजमेर के तारागढ़ दुर्ग (एक तारागढ़ दुर्ग बूंदी में भी स्थित है।) में आ गयी थी।

✍ औदिया-
✍ मेवाड़ के शासको ने शिकार करने के उद्देश्य से जयसमंद झील के पास औदिया बनवाये थे।
✍ औदिया जाली के झरोखो को कहते है।

✍ श्यामापुरा तथा भट्टा/ भाट नहरें-
✍ ये दोनों नहरें सिंचाई के उद्देश्य से जयसमंद झील से निकाली गई है।

7 comments:

  1. Jaysamand jeel is very nice

    ReplyDelete
  2. Sir aap Ka what's up Group h kya Raj. Gk ka...

    ReplyDelete
    Replies
    1. GK Class ka Whatsapp Group nhi h, GK Class instagram pe h, GK Class Facebook pe h or GK Class.in pe Aapko behtr suvidhaye milegi Visit on www.gkclass.in, Thanks & Welcome to GK Class

      Delete

पोस्ट पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद, यदि आपको ये पोस्ट अच्छी लगी तो अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें और अपना कीमती सुझाव देने के लिए यहां कमेंट करें, पोस्ट से संबंधित आपका किसी भी प्रकार का सवाल जवाब हो तो कमेंट में पूछ सकते है।