ग्रहण (सूर्य ग्रहण व चन्द्र ग्रहण) - Eclipse (Solar Eclipse and Lunar Eclipse)

👉 ग्रहण (सूर्य ग्रहण व चन्द्र ग्रहण) - Eclipse (Solar Eclipse and Lunar Eclipse)

👉 आर्यभट्ट-
✍ आर्यभट्ट ने ग्रहण की खोज की तथा ग्रहण होने के बारे में बताया।

👉 ग्रहण होने का कारण-
✍ ग्रहण होने का कारण पृथ्वी तथा चन्द्रमा की परिक्रमण गति को माना जाता है।

👉 सिजिगी-
✍ जब सूर्य, पृथ्वी तथा चन्द्रमा तीनों बिलकुल एक सीधी रेखा में होते है या तीनों 180° का कोण बनाते है तो इसी घटना को सिजिगी कहा जाता है।
✍ सिजिगी के दिन दो घटनाएं घटित होती है जैसे-

1. युति या अमावस्या-
✍ युति या अमावस्या के दिन सूर्य ग्रहण होता है।

2. वियुति या पूर्णिमा-
✍ वियुति या पूर्णिमा के दिन चन्द्र ग्रहण होता है।

👉 ग्रहण के प्रकार-
✍ ग्रहण के दो प्रकार होते है जैसे-

1. सूर्य ग्रहण (Solar Eclipse)
2. चन्द्र ग्रहण (Lunar Eclipse)

1. सूर्य ग्रहण (Solar Eclipse)-
✍ जब सूर्य तथा पृथ्वी के बीच चन्द्रमा आ जाता है तब चन्द्रमा की छाया पृथ्वी पड़ती है या गिरती है इसी घटना को सूर्य ग्रहण कहते है।
✍ सूर्य ग्रहण अमावस्या के दिन होता है लेकिन प्रत्येक अमावस्या को सूर्य ग्रहण नहीं होता है।
✍ एक वर्ष में अधिकतम 7 सूर्य ग्रहण हो सकते है।
✍ एक वर्ष में न्यूनतम 2 सूर्य ग्रहण होते है।
✍ एक सूर्य ग्रहण अधिकतम 7 मिनट 40 सैकण्ड तक हो सकता है।

👉 कोरोना या किरीट-
✍ कोरोना या किरीट सूर्य का वह भाग होता है जो की हमें सूर्य ग्रहण के दिन या सूर्य ग्रहण के समय ही दिखाई देता है।
✍ सूर्य ग्रहण के दिन या सूर्य ग्रहण के समय हमें दिखाई देने वाल छायांकित भाग ही कोरोना या किरीट कहलाता है।

2. चन्द्र ग्रहण (Lunar Eclipse)-
✍ जब सूर्य तथा चन्द्रमा के बीच पृथ्वी आ जाती है तब पृथ्वी की छाया चन्द्रमा के भाग या चन्द्रमा के एक भाग पर पड़ती है या गिरती है इसी घटना को चन्द्र ग्रहण कहते है।
✍ चन्द्र ग्रहण पू्र्णिमा के दिन होता है लेकिन प्रत्येक पूर्णिमा को चन्द्र ग्रहण नहीं होता है। क्योकी चन्द्रमा तथा पृथ्वी के अक्षों या ध्रुवों में 5° का झुकाव या अन्तर पाया जाता है।
✍ एक वर्ष में अधिकतम 7 चन्द्र ग्रहण हो सकते है।
✍ एक वर्ष में न्यूनतम 2 चन्द्र ग्रहण होते है।
✍ एक चन्द्र ग्रहण अधिकतम 1 घंटा 40 मिनट तक हो सकता है।

5 comments:

पोस्ट पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद, यदि आपको ये पोस्ट अच्छी लगी तो अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें और अपना कीमती सुझाव देने के लिए यहां कमेंट करें, पोस्ट से संबंधित आपका किसी भी प्रकार का सवाल जवाब हो तो कमेंट में पूछ सकते है।