भारत का राष्ट्रीय पंचांग व हिंदी महीनों के नाम

भारत का राष्ट्रीय पंचांग
👉पखवाड़ा-
➯प्रत्येक पखवाड़े में 15 दिन होते है।
➯प्रत्येक हिंदी महीने में 30 दिन होते है।
➯हिंदी महीनों के अनुसार एक महीने में कुल 2 पखवाड़े होते है। जैसे-
1. प्रथम पखवाड़ा-
➯प्रथम पखवाड़ा 15 दिन का होता है।
➯प्रथम पखवाड़े को कृष्ण पक्ष (बदी) भी कहते है।
➯प्रत्येक महीने का प्रथम पखवाड़ा या कृष्ण पक्ष का अंतिम दिन अमावस्या होता है।
➯हिंदी महीने के प्रथम पखवाड़े के 15 दिन क्रमशः-
क्र.संहिंदी दिवस/ तिथी
1एकम
2द्वितीया
3तृतीया
4चतुर्थी
5पंचमी
6षष्ठी
7सप्तमी
8अष्टमी
9नवमी
10दशमी
11एकादशी (ग्यारस)
12द्वादशी (बारस)
13त्रयोदशी (तेरस)
14चतुर्थदशी (चौदस)
15अमावस्या

2. अंतिम पखवाड़ा-

➯अंतिम पखवाड़े में 15 दिन होते है।
➯ अंतिम पखवाड़े को शुक्ल पक्ष (सुदी) भी कहते है।
➯प्रत्येक महीने का अंतिम पखवाड़ा या शुक्ल पक्ष का अंतिम दिन पूर्णिमा होता है।
➯हिंदी महीने के अंतिम पखवाड़े के 15 दिन क्रमशः-

क्र.संहिंदी दिवस/ तिथी
1एकम
2द्वितीया
3तृतीया
4चतुर्थी
5पंचमी
6षष्ठी
7सप्तमी
8अष्टमी
9नवमी
10दशमी
11एकादशी (ग्यारस)
12द्वादशी (बारस)
13त्रयोदशी (तेरस)
14चतुर्थदशी (चौदस)
15पूर्णिमा

👉हिंदी महीने क्रमशः-
क्र.संहिंदी महीनेमहीने (ग्रेगोरियन)
1चैत्रमार्च-अप्रैल
2वैषाखअप्रैल-मई
3ज्येष्ठमई-जून
4आषाढ़जून-जुलाई
5श्रावणजुलाई-अगस्त
6भाद्रपदअगस्त-सितम्बर
7अाश्विनसितम्बर-अक्टूबर
8कार्तिकअक्टूबर-नवम्बर
9मार्गशीर्षनवम्बर-दिसम्बर
10पौषदिसम्बर-जनवरी
11माघजनवरी-फरवरी
12फाल्गुनफरवरी-मार्च

👉राष्ट्रीय पंचांग-

➯राष्ट्रीय पंचांग का पहला महीना चैत्र होता है।
➯राष्ट्रीय पंचांग का अंतिम महीना फाल्गुन होता है।
➯राष्ट्रीय पंचांग का पहला दिन चैत्र कृष्ण एकम होता है।
➯राष्ट्रीय पंचांग का अंतिम महीना फाल्गुन पूर्णिमा होता है।
➯भारत का राष्ट्रीय पंचांग शक संवत पर आधारित है।
➯भारतीय संविधान में शक संवत को राष्ट्रीय पंचांग के रूप में 22 मार्च 1957 को स्वीकार किया गया था।
➯शक संवत का प्रारम्भ 78 ई. में कनिष्क के काल से हुआ था।
➯शक संवत के अनुसार वर्तमान में वर्ष 1940 (2018-78) चल रहा है।

अन्य महत्वपूर्ण तथ्य
👉विक्रम संवत-
➯विक्रम संवत का प्रारम्भ 57 ई.पू. विक्रमाद्वितीय के काल में हुआ था।
➯विक्रम संवत के अनुसार वर्तमान में वर्ष 2075 (2018+57) चल रहा है।

👉हिजरी संवत या पंचांग-
➯हिजरी सन् का पहला महीना मुहर्रम होता है।
➯हिजरी सन् का अंतिम महीना जिलहिज्ज होता है।
➯हिजरी संवत के महीने क्रमशः-
क्र.संइस्लामिक महीने
1मुहर्रम
2सफर
3रबीउल अव्वल
4रबीउल अाखिर
5जमादी-उल-अव्वल
6जमादी-उल-आखिर
7रजब
8शाबान
9रमजान
10शव्वाल
11जिलकाद
12जिलहिज्ज

2 comments:

पोस्ट पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद, यदि आपको ये पोस्ट अच्छी लगी तो अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें और अपना कीमती सुझाव देने के लिए यहां कमेंट करें, पोस्ट से संबंधित आपका किसी भी प्रकार का सवाल जवाब हो तो कमेंट में पूछ सकते है।