कर्क रेखा (भारत में कर्क रेखा, राजस्थान में कर्क रेखा)

भारत में कर्क रेखा 
👉कर्क रेखा-
➯23°30' उत्तरी अक्षांश रेखा को ही कर्क रेखा कहते है।
➯कर्क रेखा भारत को दो बराबर भागों में बाटती है तथा भारत के बीचों-बीच में से गुजरती है.
➯कर्क रेखा ग्लोब पर पश्चिम से पूर्व की ओर खींची गई एक काल्पनिक रेखा है।
➯कर्क रेखा पर सूर्य दोपहर से समय लम्बवत चमकता है।

👉21 जून-

➯उत्तरी गोलार्द्ध में 21 जून का दिन सबसे लम्बा व रात सबसे छोटी होती है क्योकि 21 जून को सूर्य कर्क रेखा पर लम्बवत या एकदम ऊपर होता है।

👉भारत के कुल 8 राज्यों से होकर कर्क रेखा गुजरती है जैसे-
1. गुजरात
2. राजस्थान
3. मध्य प्रदेश
4. छत्तिसगढ़
5. झारखंड
6. पश्चिम बंगाल
7. त्रिपुरा
8. मिजोरम
राजस्थान में कर्क रेखा
👉कर्क रेखा-
➯राजस्थान के दक्षिणतम जिलों डूंगरपुर तथा बांसवाड़ा से कर्क रेखा गुजरती है।
➯कर्क रेखा डूंगरपुर जिला के चिखली गांव को छूती हुई गुजरती है जबकि बांसवाड़ा जिले के बिलकुल बीचों-बीच से होकर कर्क रेखा गुजरती है।

👉बांसवाड़ा-
➯राजस्थान में कर्क रेखा के सबसे नजदीक स्थित जिला मुख्यालय बांसवाड़ा है।
➯21 जून के दिन सूर्य की किरणें बांसवाड़ा जिले पर बिलकुल सीधी या लम्बवत पड़ती है क्योकी बांसवाड़ा राजस्थान का सबसे दक्षिणी जिला है तथा कर्क रेखा के सबसे नजदीक स्थित जिला है।

👉श्री गंगानगर-
➯राजस्थान में कर्क रेखा के सबसे दूर स्थित जिला मुख्यालय श्री गंगानगर है।
➯21 जून के दिन सूर्य की किरणों का सर्वाधिक तिरछापन श्री गंगानगर में होता है क्योकी श्री गंगानगर राजस्थान का कर्क रेखा से सबसे दूर स्थित जिला है।

👉माही नदी-
➯कर्क रेखा को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर दो बार काटने वाली नदी माही नदी है।
➯माही नदी राजस्थान में कर्क रेखा को बांसवाड़ा जिले में दो बार काटती है।

No comments:

Post a Comment

कृपया कमेंट में कोई भी लिंक ना डालें