बनास नदी

बनास नदी का उद्गम स्थल-
➧बनास नदी का उद्गम राजस्थान राज्य के राजसमंद जिले की खमनौर की पहाड़ियों से होता है। अर्थात् बनास नदी राजस्थान के राजसमंद जिले की खमनौर की पहाड़ियों से निकलती है।

बनास नदी का बहाव क्षेत्र-
➧बनास नदी राजस्थान के कुल 6 जिलों में बहती है। जैसे-
1. अजमेर
2. भीलवाड़ा
3. टोंक
4. सवाई माधोपुर
5. चित्तौड़गढ़
6. राजसमंद

बनास नदी के उपनाम या अन्य नाम-
1. वर्णासा नदी
2. वन की आशा नदी
3. वशिष्टि नदी

1. वर्णासा नदी-
➧बनास नदी को ही वर्णासा नदी के नाम से जाना जाता है।

2. वन की आशा नदी-
➧बनास नदी को ही वन की आशा नदी के नाम से जाना जाता है।

3. वशिष्टि नदी-
➧बनास नदी को ही वशिष्टि नदी के नाम से जाना जाता है।

बनास नदी की लम्बाई-
➧बनास नदी पूर्णतः राजस्थान में बहने वाली सबसे लम्बी नदी है।
➧बनास नदी की कुल लम्बाई 480 किलोमीटर है।

चम्बल नदी-
➧बनास नदी चम्बल नदी की सबसे बड़ी सहायक नदी है।

बनास नदी की सहायक नदियां-
1. बेड़च नदी (आयड़ नदी)
2. कोठारी नदी
3. मांसी नदी (मनसी नदी)
4. खारी नदी
5. मुरेल नदी (मोरेल नदी)
6. बांडी नदी

बनास नदी पर बने बांध-
1. बीसलपुर बांध
2. ईसरदा बांध

1. बीसलपुर बांध-
➧राजस्थान राज्य के टोंक जिले में बनास नदी पर बीसलपुर बांध बनाया गया है।

2. ईसरदा बांध-
➧राजस्थान राज्य के टोंक जिले में बनास नदी पर ईसरदा बांध निर्माणाधीन है। अर्थात् ईसरदा बांध का निर्माण बनास नदी पर राजस्थान के टोंक जिले में चल रहा है।

बनास नदी द्वारा बनने वाले त्रिवेणी संगम-
➧बनास नदी पर राजस्थान राज्य में चार त्रिवेणी संगम बनते है। जैसे-
1. बनास नदी, बेड़च नदी, मेनाल नदी त्रिवेणी संगम
2. बनास नदी, डाई नदी, खारी नदी त्रिवेणी संगम
3. बनास नदी, बांडी नदी, मांसी नदी त्रिवेणी संगम
4. बनास नदी, चम्बल नदी, सीप नदी त्रिवेणी संगम

1. बनास नदी, बेड़च नदी, मेनाल नदी त्रिवेणी संगम-
➧राजस्थान राज्य के भीलवाड़ा जिले की बीगोद नामक जगह से लेकर माण्डलगढ़ नामक जगह के बीच बनास नदी , बेड़च नदी तथा मेनाल नदी के द्वारा त्रिवेणी संगम  बनाया जाता है।

2. बनास नदी, डाई नदी, खारी नदी त्रिवेणी संगम-
➧राजस्थान राज्य के टोंक जिले की राजमहल नामक जगह पर बनास नदी, डाई नदी तथा खारी नदी के द्वारा त्रिवेणी संगम बनाया जाता है।

3. बनास नदी, बांडी नदी, मांसी नदी त्रिवेणी संगम-
➧राजस्थान राज्य के टोंक जिले की देवधाम (जोधपुरिया) नामक जगह पर बनास नदी, बांडी नदी तथा मांसी नदी के द्वारा त्रिवेणी संगम बनाया जाता है।

4. बनास नदी, चम्बल नदी, सीप नदी त्रिवेणी संगम-
➧राजस्थान राज्य के सवाई माधोपुर जिले की रामेश्वरम नामक जगह पर बनास नदी, चम्बल नदी तथा सीप नदी के द्वारा त्रिवेणी संगम बनाया जाता है।

No comments:

Post a Comment

कृपया कमेंट में कोई भी लिंक ना डालें