जूनागढ़ दुर्ग (बीकानेर, राजस्थान)

श्रेणी-
जूनागढ़ दुर्ग दुर्गों की धान्वन तथा पारिख दुर्ग की श्रेणी में शामिल है।

स्थित-
जूनागढ़ दुर्ग राजस्थान राज्य के बीकानेर जिले में स्थित है।

निर्माता-
जूनागढ़ दुर्ग का निर्माण महाराजा रायसिंह ने करवाया था।

उपनाम या अन्य नाम-

  • बीकानेर का किला
  • राती घाटी का किला
  • जमीन का जेवर (जमीन का जेवर किला)
बीकानेर का किला-
राजस्थान के बीकानेर जिले में स्थित जूनागढ़ दुर्ग को बीकानेर का किला भी कहते है।

राती घाटी का किला-
जूनागढ़ दुर्ग को राती घाटी का किला भी कहा जाता है।

जमीन का जेवर-
जूनागढ़ दुर्ग को जमीन का जेवर या जमीन का जेवर किला भी कहा जाता है।

अन्य महत्त्वपूर्ण तथ्य-
जूनागढ़ दुर्ग राजस्थान का एकमात्र ऐसा दुर्ग है जिस पर आजतक एक भी विदेशी आक्रमण नही हुआ है।
जूनागढ़ दुर्ग राजस्थान में सर्वाधिक महलों वाला दुर्ग माना जाता है।
प्रथम विश्व युद्ध में काम में ली गई हवाई जहाज राजस्थान के जूनागढ़ दुर्ग में स्थित है।
राजस्थान में सर्वप्रथम लिफट का प्रयोग जूनागढ़ दुर्ग में ही किया गया था
जयमल व फत्ता की गजारूढ़ मूर्तियां राजस्थान के जूनागढ़ दुर्ग में स्थित है। अर्थात् हाथी पर सवार जमयल व फत्ता की मूर्तियां राजस्थान के जूनागढ़ दुर्ग में स्थित है।

विशेष- जयमल व फत्ता की पासाण पत्थर से निर्मित मुर्तिया आगरा के किले में स्थित है।


No comments:

Post a Comment

कृपया कमेंट में कोई भी लिंक ना डालें