Ads Area

लेंस (Lens)

लेंस (Lens)-

  • वह गोलीय सतह जो प्रकाश के अपवर्तन (Refraction) हेतु माध्यम उपलब्ध करवाता है उसे लेंस कहते हैं।
  • लेंस, काँच (Glass) व प्लास्टिक (Plastic) के बने होते हैं।
  • लेंस का प्रयोग सूक्ष्मदर्शी में किया जाता है।


लेंस के प्रकार (Types of Lens)-

  • लेंस दो प्रकार के होते हैं। जैसे-
  • 1. उत्तल लेंस (Convex Lens)
  • 2. अवतल लेंस (Concave Lens)


1. उत्तल लेस (Convex Lens)-

  • उत्तल लेंस अनन्त से आने वाली प्रकाश किरणों को अपवर्तन के बाद फोकस बिन्दु पर केंद्रित करती है इसलिए उत्तल लेंस को अभिसारी लेंस (Converging Lens) कहते हैं।

  • उत्तल लेंस से बनने वाला प्रतिबिम्ब वास्तविक (Real) व ऊल्टा (Inverted) बनता है।


2. अवतल लेंस (Concave Lens)-

  • अवतल लेंस अनन्त से आने वाली प्रकाश किरणों को अपवर्तन के बाद सभी दिशाओं में फेला देता है इसलिए अवतल लेंस को अपसारी लेंस (Diverging Lens) कहते हैं।

  • अवतल लेंस से बनने वाला प्रतिबिम्ब आभासी (Virtual) व सीधा (Upright) बनता है।


लेंस की क्षमता (Power of Lens)-

  • लेंस द्वारा प्रकाश को मोड़ना लेंस की क्षमता कहलाती है।
  • लेंस की क्षमता उसकी फोकस दूरी के व्युत्क्रमानुपाती है। जैसे-  P = 1/F(Meter)
  • लेंस की क्षमता का मात्रक डायप्टर (Diopter/D) होता है।
  • उत्तल लेंस की क्षमता धनात्मक (Positive) होती है।
  • अवतल लेंस की क्षमता ऋणात्मक (Negative) होती है।
  • यदि किसी लेंस की फोकस दूरी 20 सेमी. है तो उसकी क्षमता-
  • F = 20 cm = 20/100 m = 0.2 m
  • P = ?
  • P = 1/F (Meter)
  • P = 1/ 0.2
  • P = 10/2  = 5 m
  • P = 5 D (डायप्टर)


सुत्र (Formula)-

  • Lens Formula = 1/V - 1/u = 1/f
  • V = लेंस से प्रतिबिम्ब की दूरी
  • u = लेंस से बिम्ब की दूरी
  • f =  लेंस की फोकस दूरी


आवर्धन (M) = प्रतिबिम्ब की ऊँचाई/ बिम्ब की ऊँचाई

Magnification (M) = Height of Image/ Height of Object

Post a Comment

0 Comments