Ads Area

स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)-

  • वास्तविक नाम (Real Name)- नरेन्द्र नाथ दत्त (Narendra Nath Dutt)
  • स्वामी विवेकानंद पहले ब्रह्मसमाज के समर्थक थे तथा मूर्ति पूजा व बहुदेववाद का विरोध करते थे।
  • विवेकानन्द जी अपनी तार्किक शक्ति या तर्कों के लिए प्रसिद्ध थे।
  • गुरु- विवेकानन्द जी के गुरु रामकृष्ण परमहंस (Ramakrishna Paramhans) थे।
  • रामकृष्ण परमहंस का वास्तविक नाम गदाधर था।
  • रामकृष्ण परमहंस दक्षिणेश्वर (कलकत्ता) के काली माँ मंदिर के पूजारी थे।
  • रामकृष्ण परमहंस ने विवेकानन्द का नाम विविदिशानंद रखा था।
  • खेतड़ी महाराज अजीत सिंह के सुझाव पर नरेन्द्र नाथ दत्त ने अपना नाम विवेकानन्द रखा था।
  • 1893 ई. में शिकागो के विश्व धर्म सम्मेलन या संसद (World Religion Conference) में भाग लिया था।
  • शिकागो में विवेकानन्द ने अपना प्रसिद्ध भाषण "मेरे अमेरिका के भाईयों और बहनों" दिया था।
  • विवेकानन्द जी अमेरिका में तूफानी हिन्दू (Tempestuous Hindu) के नाम से प्रसिद्ध हो गये थे।
  • न्यूयॉर्क हेराल्ड समाचार पत्र ने लिखा की इस तूफानी हिन्दू को सुनने के बाद में हमें अहसास हुआ की भारत जैसे सभ्य और शिक्षित देश में ईसाई मिशनरी भेजना हमारी बड़ी भूल थी।
  • 1896 ई. में विवेकानन्द जी ने न्यूयॉर्क में "वेदान्त समाज" (Vedanta Samaj) की स्थापना की।
  • 1897 ई. में विवेकानन्द जी द्वारा बेलूरमठ (कलकत्ता) में "रामकृष्ण मिशन" (Ramakrishna Mission) की स्थापना की गई।
  • कालांतर में अल्मोड़ा (उत्तराखंड) में रामकृष्ण मिशन का कार्यालय स्थापित किया गया।
  • मुख्य शिष्या (Chief Disciple)- स्वामी विवेकानन्द जी की मुख्य शिष्या 'मार्गेट एलिजाबेथ' (Margaret Elizabeth) थी।
  • मार्गेट एलिजाबेथ का भारतीय नाम सिस्टर निवेदिता (Sister Nivedita) था।
  • सुभाष चन्द्र बोस ने विवेकानन्द जी को "राष्ट्रीय आंदोलन का आध्यात्मिक पिता" (Spiritual Father of the National Movement) कहा था।
  • विवेकानन्द जी ने विदेशों में भारतीय संस्कृति का प्रचार-प्रसार किया।
  • विवेकानन्द जी ने भारतीय अध्यात्मिकता (Indian Spirituality) व पश्चिमी भौतिकवाद (Western Materialism) को जोड़ा।
  • विवेकानन्द जी ने भारतीय युवाओं में राष्ट्रवाद (Nationalism) व आत्मसम्मान (Selfrespect) का संचार किया।
  • विवेकानन्द जी ने मूर्तिपूजा (Idol Worship) व बहुदेववाद (Polytheism) का समर्थन किया था।
  • 1902 ई. में बेलूरमठ (कलकत्ता) में विवेकानन्द जी की मृत्यु हो गयी थी।
  • विवेकानन्द जी की मृत्यु के बाद रामकृष्ण परमहंस की पत्नी शारदा देवी एवं सिस्टर निवेदिता ने रामकृष्ण मिशन के कार्य को आगे बढ़ाया।


स्वामी विवेकानंद जी की पुस्तकें (Books of Swami Vivekananda)-

  • (I) ज्ञानयोग (Jnana Yoga)
  • (II) कर्मयोग (Karma Yoga)
  • (III) राजयोग (Raja Yoga)
  • (IV) मैं समाजवादी हूँ (I am a socialist)- इसमें दरिदर नारायण की अवधारणा थी।


स्वामी विवेकानंद जी के समाचार पत्र (Newspapers of Swami Vivekananda)-

  • (I) प्रबुद्ध भारत (Prabuddha Bharat)- अंग्रेजी भाषा
  • (II) उद्बोधन (Udhbodhan)- बांग्ला भाषा

Post a Comment

0 Comments