राजस्थान की कला एवं संस्कृति के महत्वपूर्ण प्रश्न ( 251-300 )

प्रश्न 251. राजस्थानी विचारधारा की चित्रकला का आरंभिक मुख्य केन्द्र था- बीकानेर
प्रश्न 252. उस्ताद कहलाने वाले चित्रकारो ने भित्ति चित्र किस नगर मे बनाये थे- बीकानेर
प्रश्न 253. जयपुर राज्य के कारखाने का नाम जहा कलाकार चित्र और लघु चित्र बनाते थे- सूरतखाना
प्रश्न 254. प्रसिद्ध चित्रकृति ढ़ोला मारू की शैली है- जौधपुर शैली
प्रश्न 255. पशु-पक्षीयो को महत्व देने वाले स्कूल आँफ पेंटिग का नाम है- बूँदी शैली

प्रश्न 256. राजस्थान मे थेवाकला कहा की प्रसिद्ध थी- प्रतापगढ़

प्रश्न 257. भीलो की बोली है- बागड़ी
प्रश्न 258. मेवाती बोली है- अलवर
प्रश्न 259. मालवी बोली है- झालावाड़, प्रतापगढ़, चित्तोड़गढ़
प्रश्न 260. सिपाड़ी बोली है- शाहपुरा ( भीलवाड़ा )

प्रश्न 261. सबसे अधिक क्षेत्र मे बोली जाने वाली बोली है- मारवाड़ी

प्रश्न 262. हाँ चाँद मेरा है का रचियता है- हरिराम मीणा
प्रश्न 263. अहीरवाटी बोली राजस्थान के किस क्षेत्र मे बोली जाती है- बहरोड़, मण्डावर, कोटपूतली
प्रश्न 264. जगरौती बोली है- करौली
प्रश्न 265. नागरचाल बोली है- टोंक

प्रश्न 266. धावड़ी बोली है- उदयपुर

प्रश्न 267. शिव-पार्वती का वाध यंत्र कहलाता है- मांदल
प्रश्न 268. तार वाले वाध यंत्र कहलाते है- तत् वाध
प्रश्न 269. फुंक वाले वाध यंत्र कहलाते है- सुषिर वाध
प्रश्न 270. चोट/अाघात वाले वाध यंत्र कहलाते है- घन वाध

प्रश्न 271. चमड़े से मढ़े हुए ताल वाध यंत्र कहलाते है- अवनध वाध

प्रश्न 272. मोहण वीणा के आविष्कार कर्ता है- ग्रैमी अवार्ड विजेता जयपुर के पण्डित विश्वमोहन
 भट्ट 
प्रश्न 273. गोडवाड़ क्षेत्र के लोक-नर्तक,समर-नृत्य करते समय पावो मे क्या बांधकर नाचते है- रमझौल (धुधरुलो की पट्टी ) व हाथ मे तलवार
प्रश्न 274. लेजिम किस जनजाति का वाध है- गरासिया
प्रश्न 275. कामड़ महिलाओ व पुरुषो का वाध यंत्र है- झांझ, तंदुरा

प्रश्न 276. खड़ताल का जादुगर है- सद्दीक खाँ

प्रश्न 277. प्रसिद्ध नगाड़ा वादक है- रामकिशन ( पुष्कर )
प्रश्न 278. सबसे बड़ा लोक वाध यंत्र है- बंब/टामक
प्रश्न 279. वालर नृत्य किया जाता है- सिरोही मे
प्रश्न 280. ढ़ोल नृत्य किया जाता है- जालौर मे

प्रश्न 281. तार लगा वाध यंत्र है- जन्तर

प्रश्न 282. तत् वाध यंत्र है- रावण हत्था, जन्तर, कामायचा
विशेष- रावण हत्था ऐसा लाेकवाध यंत्र है लिसका निर्माण आधे कटे नारियल की कटोरी से होता है
प्रश्न 283. गैर नृत्य कहा किया जाता है- मेवाड़, बाडमेर ( भीलो द्वारा होली पर )
प्रश्न 284. डाण्डिया नृत्य किया जाता है- जौधपुर
प्रश्न 285. गीदड़ नृत्य किया जाता है- सीकर ( शेखावाटी )

प्रश्न 286. अग्नि नृत्य का उद्गम किस जिले मे हुआ- बीकानेर

प्रश्न 287. राजस्थान का शंकरिया नृत्य किससे संबंधित है- कालबेलिया
प्रश्न 288. वालर नृत्य किस जनजाति का प्रमुख है- गरासिया
प्रश्न 289. तलवार की धार पर नाचना, काँच के टुकड़ो पर नाचना, जमीन से मुँह द्वारा रुमाल उठाना किस नृत्य की विशेषता है- भवाई
विशेष- बाघाजी राजस्थान मे भवाई नृत्य के जन्मदाता है- 
प्रश्न 290. तेरहताली नृत्य किस लोकदेवता को समर्पित है- रामदेवजी

प्रश्न 291. बालदिया नृत्य किया जाता है- धुमन्तु जाति बालदियो भाटो द्वारा

प्रश्न 292. पटवो, नथमल, सालिमसिंह की हवेली है- जैसलमेर
प्रश्न 293. रामपुरीया, बच्छावतो की हवेली है- बीकानेर
प्रश्न 294. बागोर की हवेली है- उदयपुर
प्रश्न 295. भगतो की हवेली है- नवलगढ़

प्रश्न 296. सोना-चाँदी की हवेली है- बिसाऊ ( झुन्झुनू )

प्रश्न 297. सुनहरी कोठी स्थित है- टोंक
प्रश्न 298. नौ ग्रहो का मंदिर स्थित है- किशनगढ़ ( अजमेर )
प्रश्न 299. राठौड़ो की कुल देवी है- नागणेची माता
प्रश्न 300. यादवो की कुल देवी है- अंजनी माता

6 comments:

कृपया कमेंट में कोई भी लिंक ना डालें