राजस्थान की कला एवं संस्कृति के महत्वपूर्ण प्रश्न ( 351-400 )

प्रश्न 351. नारियल के आधे कटोरे पर खाल मंढ़कर बनाये जाने वाला वाध यंत्र है- रावण हत्था
प्रश्न 352. रोहिड़ा की खोखली लकड़ी से बना वाध यंत्र है- चौतारा/तंदूरा/वीणा
प्रश्न 353. मत्त कोकिल वीणा का वर्तमान नाम है- सुर मण्डल/स्वर मण्डल
प्रश्न 354. मेव लोगो का वाध यंत्र है- चिकारा ( सारंगी का छोटा रुप ) तनु की लकड़ी का बना होता है
प्रश्न 355 भपंग का जादुगर है- जहूर खां मेवाती ( अलवर )

प्रश्न 356. प्रसिद्ध तेरहताली नर्तकियाँ है- माँगी बाई, दुर्गा देवी

प्रश्न 357. उषा शर्मा प्रसिद्ध है- कत्थक डांस हेतु
प्रश्न 358. श्रेष्ठा सोनी प्रसिद्ध है- भवाई डांसर के लिए
प्रश्न 359. फलकुबाई किस डांस हेतु प्रसिद्ध है- चरी डांस हेतु
प्रश्न 360. गुलाबो प्रसिद्ध है- कालबेलिया डांस के लिए

प्रश्न 361. चाँद मोहम्मद खाँ है- शहनाई वादक

प्रश्न 362. कमल साकर खाँ प्रसिद्ध है- कमायचा वादक
प्रश्न 363. पेपे खाँ प्रसिद्ध है- सुरणई वादक
प्रश्न 364. गुलिस्ता है- शेखसादी द्वारा जवाहरतो की स्याही से लिखा काव्य
विशेष- वर्तमान मे यह काव्य अलवर मे रखा गया है
प्रश्न 365. न्हाण महोत्सव होता है- सांगोद ( कोटा ) मे होली पर 

प्रश्न 366. लव-कुश की जन्मस्थली है- सीताबाड़ी ( बारा )

प्रश्न 367. कनफड़े नाथो का तीर्थस्थल है- भर्तृहरि ( अलवर )
प्रश्न 368. केलादेवी की आराधना मे कौनसा गीत गाया जाता है- लांगुरिया
प्रश्न 369. सर्वाधिक सांसी जनजाति है- भरतपुर
प्रश्न 370. बत्तीसी है- वर/वधू के ननिहाल मे निमंत्रण देने जाना

प्रश्न 371. तुलसी पूजन होता है- कार्तिक शुक्ला ग्यारस को

प्रश्न 372. भैया दूज आती है- कार्तिक शुक्ला दूज को
प्रश्न 373. हरियाली अमावस्या है- श्रावण अमावस्या
प्रश्न 374. बड़ अमावस्या है- ज्येष्ठ अमावस्या
प्रश्न 375. ख्वाजा साहब का उर्स कब से कब तक लगता है- रज्जब की पहली तारीख से नौवी तारीख तक

प्रश्न 376. माता कुण्डालिनी का मेला लगता है- वैशाख पूर्णिमा को रासमी ( चित्तौड़गढ़ ) मे

प्रश्न 377. गधो का मेला लगता है- भावगढ़ बन्ध्या लूणियावास ( जयपुर ) अक्टूबर माह मे
प्रश्न 378. शिशुपाल वध के रचियता है- महाकवि माघ ( ये भीनलाल, जालौर के निवासी थे )
प्रश्न 379. सर्वप्राचीन मस्जिद है- अलाउद्दीन की मस्जिद (1311 ई.) जालौर
प्रश्न 380. सर्वाधिक डामोर जनजाति है- सीमलवाड़ा ( डूंगरपुर ) मे

प्रश्न 381. सर्वाधिक  मीणा जनजाति पायी जाती है- जयपुर 

प्रश्न 382. सर्वाधिक सहरिया जनजाति पायी जाती है- ( शाहबाद व किशनगंज ) बारा
प्रश्न 383. सर्वाधिक गरासिया जनजाति पायी जाती है- ( आबू व पिण्डवाड़ा मे ) सिरोही
प्रश्न 384. सर्वाधिक कथौड़ी जनजाति पायी जाती है- उदयपुर
प्रश्न 385. सर्वाधिक भील जनजाति पायी जाती है- उदयपुर 

प्रश्न 386. टुंटिया संबंधित है- बारात जाने के पश्चात पीछे घर मे वर पक्ष की महिलाओ द्वारा किया जाने वाला स्वांग

प्रश्न 387. मंकी मेन कहलाता है- जानकी लाल भांड ( भीलवाड़ा )
प्रश्न 388. संगीत दंगल का संबंध है- तालबंदी गायिकी से (यह पूर्वी राजस्थान मे प्रसिद्ध है)
प्रश्न 389. हाड़ौती का सुरंगा मेला कहा व कब लगता है- चन्द्रभागा पशु मेला ( झालावाड़ ), कार्तिक पूर्णिमा को लगता है
प्रश्न 390. सपेरे नाथो के गुरु है- कणीपाव/कृष्णपाद

प्रश्न 391. जुरहरा की रामलीला है- सवारी जुलुस के लिए प्रसिद्ध

प्रश्न 392. मूकाभिनय के लिए प्रसिद्ध रामलीला है- बिसाऊ ( झुन्झुनू )
प्रश्न 393. अटरु के रामलीला की विशेषता है- अटरु ( बारा ) की रामलीला को धनुष लीला कहते है जिसमे शिवधनुष को दर्शक तोड़ते है
प्रश्न 394. चुनरी कहा की प्रसिद्ध है- जोधपुर 
प्रश्न 395. मसूरियाँ डोरिया की साड़िया प्रसिद्ध है- कैथून ( कोटा )

प्रश्न 396. कसूमल रंग है- गहरा केसरिया रंग/लाल रंग

प्रश्न 397. सिकलीगर घराना है- उदयपुर ( चाँदी के शस्त्र बनाने हेतु विख्यात )
प्रश्न 398. सवाल-जवाब वाली ख्यात है- तुर्रा-कलपी
प्रश्न 399. संत तारकीन शाह की दरगाह है- नागौर
प्रश्न 400. जौहर बाई व बन्नो बेगम है- जयपुर की प्रसिद्ध माँड गायिका

2 comments:

पोस्ट पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद, यदि आपको ये पोस्ट अच्छी लगी तो अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें और अपना कीमती सुझाव देने के लिए यहां कमेंट करें, पोस्ट से संबंधित आपका किसी भी प्रकार का सवाल जवाब हो तो कमेंट में पूछ सकते है।