राजस्थान के नवीनतम जिले

★ 1 नवम्बर, 1956-
👉वर्तमान राजस्थान का गठन 1 नवम्बर, 1956 को किया गया था।
👉राजस्थान गठन के समय राजस्थान में कुल 26 जिले थे।

राज्यपाल-
👉राजस्थान में 1 नवम्बर, 1956 को राज प्रमुख का पद समाप्त करके राज्यपाल का पद बनाया गया था।
👉राजस्थान का प्रथम राज्यपाल सरदार गुरुमुख निहाल सिंह को बनाया गया था।

★ अजमेर-
👉1 नवम्बर, 1956 तक राजस्थान में कुल 26 जिले थे तथा 26 वां जिला अजमेर था।
👉अजमेर जिला जयपुर से काटकर बनाया गया था।

★ 1 नवम्बर, 1956 के बाद राजस्थान में बनाये गये नवीनतम जिले-
👉1 नवम्बर, 1956 के बाद राजस्थान में अब तक कुल 7 नये जिले बनाये गये है। जैसे-

★ धौलपुर-
👉जिला- 27 वां
👉स्थापना- सन् 1982
👉धौलपुर जिला भरतपुर जिले से काटकर बनाया गया था।
👉1 नवम्बर, 1956 के बाद राजस्थान में पहली बार नया जिला धौलपुर को बनाया गया था

★ बारा-
👉जिला- 28 वां
👉स्थापना- सन् 1991
👉बारा जिला कोटा जिले से काटकर बनाया गया था।

★ दौसा-
👉जिला- 29 वां
👉स्थापना- सन् 1991
👉दौसा जिला जयपुर जिले से काटकर बनाया गया था।

★ राजसमंद-
👉जिला- 30 वां
👉स्थापना- सन् 1991
👉राजसमंद जिला उदयपुर जिले से काटकर बनाया गया था।

★ हनुमानगढ़-
👉जिला- 31 वां
👉स्थापना- सन् 1994
👉हनुमानगढ़ जिला श्री गंगानगर जिले से काटकर बनाया गया था।

★ करौली-
👉जिला- 32 वां
👉स्थापना- सन् 1997
👉करौली जिला सवाईमाधौपुर जिले से काटकर बनाया गया था।

★ प्रतापगढ़-
👉जिला- 33 वां
👉स्थापना- 1 अप्रेल, 2008
👉मुख्यमंत्री- वसुंधरा राजे
👉प्रतापगढ़ जिला बांसवाड़ा, उदयपुर तथा चित्तोड़गढ़ से काटकर बनाया गया था।
👉यह राजस्थान का नवीनतम जिला है
👉परमेश चंद्र समिति- इसी समिति की सिफारिश पर प्रतापगढ़ जिला बनाया गया था।
👉तहसील- प्रतापगढ़ जिले का गठन 5 तहसीलो को मिलाकर किया गया था। जैसे-
1. छोटी सादड़ी (यह तहसील पहले चित्तोड़गढ़ जिले में स्थित थी।)
2. आरनोद (यह तहसील पहले चित्तोड़गढ़ जिले में स्थित थी।)
3. प्रतापगढ़ (यह तहसील पहले चित्तोड़गढ़ जिले में स्थित थी।)
4. धरियावद (यह तहसील पहले उदयपुर जिले में स्थित थी।)
5. पीपलखूंट तहसील (यह तहसील पहले बांसवाड़ा जिले में स्थित थी।)

★ सन् 1991-
👉इस वर्ष राजस्थान में पहली बार एक साथ 3 नये जिले बनाये गये थे। (बारा, दौसा, राजसमंद)

1 comment:

  1. प्रतापगढ़ का निर्माण 26 जनवरी 2008 को हुआ था

    ReplyDelete

पोस्ट पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद, यदि आपको ये पोस्ट अच्छी लगी तो अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें और अपना कीमती सुझाव देने के लिए यहां कमेंट करें, पोस्ट से संबंधित आपका किसी भी प्रकार का सवाल जवाब हो तो कमेंट में पूछ सकते है।