डॉ. ब्लादिमीर कोपेन के अनुसार राजस्थान की जलवायु का वर्गीकरण

👉 डॉ. ब्लादिमीर कोपेन के अनुसार राजस्थान की जलवायु का वर्गीकरण (राजस्थान की जलवायु)-

👉 डाॅ. ब्लादिमीर कोपेन-
✍ डाॅ. ब्लादिमीर कोपेन जर्मनी के प्रसिद्ध भूगोल वेता है।
✍ डाॅ. ब्लादिमीर कोपेन ने सन् 1918 में वनस्पति के आधार पर राजस्थान की जलवायु को चार भागों में बाटा है।
✍ इस वर्गीकरण के लिए डाॅ. ब्लादिमीर कोपेन ने राजस्थान की वर्षा तथा तापमान को महत्व दिया है।
✍ डाॅ. ब्लादिमीर कोपेन ने राजस्थान की जलवायु को चार सांकेतिक शब्दों में वर्णीत किया है जैसे-

1. Bwhw जलवायु प्रदेश
2. Bshw जलवायु प्रदेश
3. Cwg जलवायु प्रदेश
4. Aw जलवायु प्रदेश

1. Bwhw जलवायु प्रदेश-
✍ Bwhw का पूरा नाम- शुष्क मरुस्थलीय जलवायु प्रदेश
✍ Bwhw जलवायु प्रदेश में राजस्थान के श्री गंगानगर, हनुमानगढ़, जैसलमेर, बीकानेर तथा उत्तरी-पश्चिमी जोधपुर का हिस्सा आता है।
✍ Bwhw जलवायु प्रदेश का राजस्थान में प्रतिनिधित्व वाला जिला बीकानेर है।
✍ Bwhw जलवायु प्रदेश की विशेष दिशा या विस्तार उत्तरी राजस्थान में है।
✍ Bwhw जलवायु प्रदेश में वार्षिक वर्षा का औसत 10 से 20 सेंटीमीटर है।
✍ Bwhw जलवायु प्रदेश का औसत तापमान 35℃ रहता है।

2. Bshw जलवायु प्रदेश-
✍ Bshw का पूरा नाम- अर्द्ध शुष्क जलवायु प्रदेश
✍ Bshw जलवायु प्रदेश में राजस्थान के नागौर, बाड़मेर, जालोर, सिरोही, पाली, जोधपुर, झुन्झुनू, चूरू तथा सीकर जिले शामिल है।
✍ Bshw जलवायु प्रदेश का राजस्थान में प्रतिनिधित्व वाला जिला नागौर है।
✍ Bshw जलवायु प्रदेश की विशेष दिशा या विस्तार पश्चिमी राजस्थान में है।
✍ Bshw जलवायु प्रदेश में वार्षिक वर्षा का औसत 20 से 40 सेंटीमीटर है।
✍ Bshw जलवायु प्रदेश का औसत तापमान 32 से 33℃ रहता है।
✍ डाॅ. ब्लादिमीर कोपेन के राजस्थान की जलवायु के वर्गीकरण के अनुसार राजस्थान का सर्वाधिक क्षेत्र या हिस्सा Bshw जलवायु प्रदेश में आता है।

3. Cwg जलवायु प्रदेश-
✍ Cwg का पूरा नाम- उप आद्र जलवायु प्रदेश
✍ Cwg जलवायु प्रदेश में राजस्थान के टोंक तथा दक्षिणी-पूर्वी अरावली के समस्त जिले शामिल है।
✍ Cwg जलवायु प्रदेश का राजस्थान में प्रतिनिधित्व वाला जिला टोंक है।
✍ Cwg जलवायु प्रदेश की विशेष दिशा या विस्तार मध्य राजस्थान में है।
✍ Cwg जलवायु प्रदेश में वार्षिक वर्षा का औसत 60 से 80 सेंटीमीटर है।
✍ Cwg जलवायु प्रदेश का औसत तापमान 25 से 30 रहता है।
✍ डाॅ. ब्लादिमीर कोपेन के अनुसार राजस्थान में सर्वाधिक बिहड़ वाला क्षेत्र Cwg जलवायु प्रदेश है।

4. Aw जलवायु प्रदेश-
✍ Aw का पूरा नाम- अति आद्र जलवायु प्रदेश
✍ Aw जलवायु प्रदेश में राजस्थान के डूंगरपुर, प्रतापगढ़, बांसवाड़ा, चित्तौड़गढ़ तथा उदयपुर का हिस्सा शामिल है।
✍ Aw जलवायु प्रदेश का राजस्थान में प्रतिनिधित्व वाला जिला बांसवाड़ा है।
✍ Aw जलवायु प्रदेश की विशेष दिशा या विस्तार दक्षिणी राजस्थान में है।
✍ Aw जलवायु प्रदेश में वार्षिक वर्षा का औसत 80 से 100 सेंटीमीटर है।
✍ Aw जलवायु प्रदेश का औसत तापमान 10 से 15 रहता है।
✍ डाॅ. ब्लादिमीर कोपेन के अनुसार राजस्थान का सबसे कम हिस्सा या क्षेत्र Aw जलवायु प्रदेश में आता है।

4 comments:

पोस्ट पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद, यदि आपको ये पोस्ट अच्छी लगी तो अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें और अपना कीमती सुझाव देने के लिए यहां कमेंट करें, पोस्ट से संबंधित आपका किसी भी प्रकार का सवाल जवाब हो तो कमेंट में पूछ सकते है।