Type Here to Get Search Results !

राष्ट्रीय आय (National Income)

राष्ट्रीय आय (National Income)-

  • NNP (fc) को ही अर्थशास्त्र में राष्ट्रीय आय कहा जाता है।
  • NNP (fc) = NNP (mp) - Indirect Tax + Subsidy
  • राष्ट्रीय आय की गणना करने के लिए निम्नलिखित आवधारणाओं का प्रयोग किया जाता है।

  • 1. सकल घरेलू उत्पाद (Gross Domestic Product- GDP)
  • 2. सकल राष्ट्रीय उत्पाद (Gross National Product- GNP)
  • 3. शुद्ध घरेलू उत्पाद (Net Domestic Product- NDP)
  • 4. शुद्ध राष्ट्रीय उत्पाद (Net National Product- NNP)


1. सकल घरेलू उत्पाद (Gross Domestic Product- GDP)-

  • सकल घरेलू उत्पाद एक विशिष्ट समय अवधि के भीतर किसी देश के घरेलू क्षेत्र में उत्पादित सभी अंतिम वस्तुओं और सेवाओं का मौद्रिक मूल्य होता है।
  • इस परिभाषा के चार मुख्य तत्व है। जैसे-
  • (I) अंतिम वस्तु और सेवाएं (Final Goods and Services)
  • (II) किसी देश का घरेलू क्षेत्र (Domestic Territory of a Country)
  • (III) एक विशिष्ट समय अवधि के भीतर (Within a Specified Period)
  • (IV) मौद्रिक मूल्य (Monetary Value)


(I) अंतिम वस्तु और सेवाएं (Final Goods and Services)-

  • वे वस्तु और सेवाएं जिन्होंने उत्पादन की प्रक्रिया पूरी कर ली है। तथा उपभोग के लिए तैयार है अंतिम वस्तु और सेवाएं कहलाती है।
  • अंतिम वस्तु और सेवाओं में उन मध्यस्त वस्तुओं को शामिल नहीं किया जायेगा जिनका प्रयोग उत्पादन की प्रक्रिया में किया जा रहा है। जैसे- कम्प्यूटर अंतिम वस्तु है तथा कम्प्यूटर को बनाने में प्रयोग लिये गये उपकरण मध्यस्थ वस्तु है।


(II) किसी देश का घरेलू क्षेत्र (Domestic Territory of a Country)-

  • किसी देश के घरेलू क्षेत्र में निम्नलिखित शामिल है।
  • (A) देश का भौगोलिक क्षेत्र
  • (B) विशिष्ट आर्थिक क्षेत्र या अनन्य आर्थिक क्षेत्र
  • (C) दूसरे देशों में स्थित दूतावास एवं सैन्य अडे
  • (D) देश में पंजीकृत वायुयान तथा जहाज


(III) एक विशिष्ट समय अवधि के भीतर (Within a Specified Period)-

  • GDP की गणना एक वित्तीय वर्ष के लिए की जाती है।
  • GDP की गणना में वित्तीय वर्ष को चार तिमाहियों में बाटा जाता है।


(IV) मौद्रिक मूल्य (Monetary Value)-

  • मौद्रिक मूल्य = मात्रा × कीमत (Quantity × Price)


2. सकल राष्ट्रीय उत्पाद (Gross National Product- GNP)-

  • एक विशिष्ट समय अवधि के भीतर किसी देश के निवासियों के द्वारा उत्पादित सभी अंतिम वस्तुओं और सेवाओं का मौद्रिक मूल्य ही सकल राष्ट्रीय उत्पाद कहलाता है।
  • सकल राष्ट्रीय उत्पाद = सकल घरेलू उत्पाद + विदेशों में कमाई करने वाले भारतीय निवासी - भारत में विदेशी निवासी की कमाई
  • GNP = GDP + Indian Resident Earning Foreign Income - Foreign Resident Earning In India
  • सकल राष्ट्रीय उत्पाद = सकल घरेलू उत्पाद + विदेशों में शुद्ध कारक आय
  • GNP = GDP + Net Factor Income From Abroad


3. शुद्ध घरेलू उत्पाद (Net Domestic Product- NDP)-

  • निवल या शुद्ध = सकल - मूल्यह्रास
  • Net = Gross - Depreciation
  • शुद्ध घरेलू उत्पाद = सकल घरेलू उत्पाद - मूल्यह्रास
  • GNP = GDP - Depreciation


4. शुद्ध राष्ट्रीय उत्पाद (Net National Product- NNP)-

  • शुद्ध राष्ट्रीय उत्पाद = शुद्ध घरेलू उत्पाद - मूल्यह्रास
  • NNP = GNP - Depreciation


राष्ट्रीय आय की गणना (Calculation of National Income)-

  • राष्ट्रीय आय की गणना की उपर्युक्त चारों (GDP, GNP, NDP, NNP) अवधारणाएं साधन लागत और बाजार मूल्य पर निकाली जा सकती है। जैसे-

  • साधन लागत = किराया + मजदूरी + ब्याज + लाभ
  • Factor Cost = Rent + Wages + Interest + Profit
  • बाजार मूल्य = साधन लागत + अप्रत्यक्ष कर - सब्सिडी
  • Market Price = Factor Cost + Indirect Tax - Subsidy
  • (1) GDP (mp) = GDP (fc) + Indirect Tax - Subsidy
  • (2) GNP (mp) = GNP (fc) + Indirect Tax - Subsidy
  • (3) NDP (mp) = NDP (fc) + Indirect Tax - Subsidy
  • (4) NNP (mp) = NNP (fc) + Indirect Tax - Subsidy


प्रतिव्यक्ति आय (Per Capita Income)-

  • भारत में प्रतिव्यक्ति आय निकालने का सूत्र निम्नलिखिति है।-
  • प्रतिव्यक्ति आय = राष्ट्रीय आय (National Income) ÷ जनसंख्या (Population)
  • प्रतिव्यक्ति आय = NNP (fc) ÷ Population


वैयक्तिक आय (Personal Income- PI)-

  • परिवार को होने वाली आय को ही वैयक्तिक आय कहा जाता है।
  • वैयक्तिक आय = राष्ट्रीय आय - अवितरित लाभ - निगम कर - निवल या शुद्ध ब्याज भुगतान + अंतरण भुगतान
  • Personal Income = National Income - Undistributed Profit - Corporate Tax - Net Interest Payment + Transfer Payment


प्रयोज्य आय (Disposable Income- DI)-

  • प्रयोज्य आय = वैयक्तिक आय - कर भुगतान - गैर कर भुगतान
  • Disposable Income = Personal Income - Tax Payment - Non Tax Payment


प्रचलित कीमत (Current Price) Vs स्थित कीमत (Constant Price)-

  • (I) मौद्रिक GDP (Nominal GDP)

  • (II) वास्तविक DGP (Real GDP)


(I) मौद्रिक GDP (Nominal GDP)-

  • जब GDP की गणना वर्तमान वर्ष या प्रचलित कीमतों के आधार पर की जाती है तब उसे मौद्रिक GDP कहा जाता है।

  • मौद्रिक GDP में महंगाई का प्रभाव शामिल होता है।


(II) वास्तविक GDP (Real GDP)-

  • जब GDP की गणना स्थित कीमतों के आधार पर की जाती है तब उसे वास्तविक GDP कहा जाता है।

  • वास्तविक GDP में महंगाई का प्रभाव शामिल नहीं होता है।


GDP अपस्फीतिकारक (GDP Deflator)-

  • GDP Deflator = Nominal GDP ÷ Real GDP × 100
  • GDP Deflator एक संकेतक है जो महंगाई (मुद्रास्फीति) को मापता है।
  • GDPअपस्फीतिकारक को निहित मूल्य अपस्फीतिकारक भी कहा जाता है।
  • GDP Deflator CPI व WPI के मुकाबले अधिक सटीक है लेकिन GDP Deflator कम प्रचलित है क्योंकि GDP Deflator की गणना करने में समय अधिक लगता है।
  • CPI = Consumer Price Index (उपभोक्ता मूल्य सूचकांक)
  • WPI = Wholesale Price Index (थोक मूल्य सूचकांक)


GDP की गणना की विधियां (Methods of GDP Calculation)-

  • GDP की गणना तीन विधियों से की जाती है। जैसे-
  • (I) आय विधि (Income Method)
  • (II) व्यय विधि (Expenditure Method)
  • (III) उत्पादन विधि (Production Method)


(I) आय विधि (Income Method)-

  • GDP की गणना की आय विधि में साधन आय (Factor Income) को जोड़ा जाता है।
  • आय विधि = किराया + मजदूरी + ब्याज + लाभ
  • Income Method = Rent + Wages + Interest + Profit


(II) व्यय विधि (Expenditure Method)-

  • GDP की गणना की व्यय विधि के तहत अर्थव्यवस्था में होने वाले व्यय की गणना की जाती है।

  • व्यय विधि = उपभोग पर किया गया व्यय + निवेश + सरकारी व्यय + निर्यात - आयात
  • Expenditure Method = Consumption Expenditure + Investment + Government Expenditure + Export - Import
  • व्यय विधि = C + I + G + (X-M)- Import


(III) उत्पादन विधि (Production Method)-

  • GDP की गणना की उत्पादन विधि के तहत अर्थव्यवस्था के विभिन्न क्षेत्रों में मूल्य संवर्धन (Value Added) की गणना की जाती है।
  • मूल्य संवर्धन = उत्पादों का कुल बिक्री मूल्य - मध्यस्थ वस्तुओं की लागत
  • Value Added = Total Value of Sale of Products - Cost of Intermediary Goods
  • उत्पादन विधि से जब GDP की गणना की जाती है तब इसे (Gross Value Added- GVA) कहा जाता है।


भारत में सन् 2015 में निम्नलिखित परिवर्तन किए गए-

  • GVA (bp) = GVA (fc) + Production Tax - Production Subsidy
  • GVA (mp) = GVA (bp) + Product Tax - Product Subsidy
  • bp = Basic Price (मूल कीमत)
  • fc = Factor Cost (साधारण लागत)
  • mp = Market Price (बाजार मूल्य)
  • उत्पादन कर तथा उत्पादन सब्सिडी- वह कर या सब्सिडी जो की उत्पादन की मात्रा पर निर्भर नहीं करती है।

  • उत्पाद कर तथा उत्पाद सब्सिडी- वह कर तथा सब्सिडी जो की उत्पाद की मात्रा पर निर्भर करती है।


भारत में GDP की गणना (GDP Calculation in India)-

  • भारत में GDP की गणना के लिए व्यय विधि तथा उत्पादन विधि का प्रयोग किया जाता है आय विधि का प्रयोग नहीं किया जाता है।
  • भारत में GDP की गणना राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (National Statistics Office- NSO) के द्वारा की जाती है।
  • राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय सांख्यिकी एवं कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय (Ministry of Statistics and Programme Implementation- MOSPI) के अधिन कार्य करता है।


GDP की गणना में समस्याएं-

  • बहुत सी आर्थिक गतिविधियों की जानकारी सरकार को प्राप्त नहीं होती है इसलिए उसे GDP की गणना में शामिल नहीं किया जाता है।
  • बहुत से आकड़े सटीक नहीं होते हैं।
  • गैर कानूनी गतिविधियों को GDP में शामिल नहीं किया जाता है।
  • घरेलू सेवाओं को GDP में शामिल नहीं किया जाता है।
  • शेयर बाजार आदि से प्राप्त पूंजीगत लाभ को GDP में शामिल नहीं किया जाता है।

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Top Post Ad

Below Post Ad