Type Here to Get Search Results !

Rh-कारक (Rh-Factor)

Rh-कारक (Rh-Factor)-


Rh-कारक (Rh-Factor)-

➠Rh-कारक की खोज सन् 1940 में लैंडस्टीनर और विनर ने मिलकर की थी।

➠रीसस नामक बंदर की लाल रक्त कोशिका (RBC) पर एंटीजन के अलावा पायी जाने वाली संरचना को Rh-कारक या Rh-Factor कहा जाता है।

➠Rh-Factor या Rh-कारक को D-एंटीजन (D-Antigen) भी कहा जाता है।

➠यह आवश्यक नहीं है की Rh-कारक सभी मनुष्यों में ही उपस्थित हो अर्थात् Rh-कारक प्रत्येक मनुष्य में नहीं पाया जाता है।

➠ऐसे व्यक्ति जिनमें Rh-कारक पाया जाता है या उपस्थित होता है उन व्यक्तियों का रक्त समूह (-ve) त्रणात्मक (Negative) होता है।

➠ऐसे व्यक्ति जिनमें Rh-कारक नहीं पाया जाता है या अनुपस्थित होता है उन व्यक्तियों का रक्त समूह (+ve) धनात्मक (Positive) होता है।

➠प्राकृतिक रूप से Rh-Antibody (Rh-एंटीबाॅडी) सभी व्यक्तियों में नहीं पायी जाती है या अनुपस्थित होती है।

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Top Post Ad

Below Post Ad