Type Here to Get Search Results !

मानव दांत (Human Teeth)

मनुष्य के दांत (Human Teeth)-

  • मनुष्य के दांत जबड़े में पाये जाने वाले गर्त (Canal) में पाये जाते हैं।
  • दांत का आंतरी भाग जो दिखाई नहीं देता है उसे रूट कैनाल (Root Canal) कहते हैं।
  • मनुष्य के दांत चार प्रकार के होते हैं। जैसे-

  • 1. इंसाइजर या इंसिजर (Incisor Teeth)
  • 2. कैनाइन (Canine Teeth)
  • 3. प्रीमोलर (Premolar Teeth)
  • 4. मोलर (Molar Teeth)


1. इंसाइजर या इंसिजर (Incisor Teeth)-

  • इंसाइजर दांत कुचरने के काम आते हैं।
  • इंसाइजर दांत चूहों में अधिक विकसित होते हैं।
  • मनुष्य के अंदर इंसाइजर दांत पाये तो जाते हैं लेकिन इंसाइजर दांत चूहों में अधिक विकसित होते हैं।
  • उपरी जबड़े का 2nd इंसाइजर दांत कुछ जानवरों में अधिक विकसित होता है और बाहर निकला होता है। जैसे- हाथी
  • ऊपरी जबड़े के 2nd इंसाइजर दांत को हाथी दांत भी कहते हैं।
  • हाथी दांत को गजदंत (Tusk) भी कहते हैं।
  • मनुष्य में इंसाइजर दांतों की संख्या 8 होती है। जैसे-
  • (I) ऊपरी दायें जबड़े में इंसाइजर दांतों की संख्या 2 होती है।
  • (II) ऊपरी बायें जबड़े में इंसाइजर दांतों की संख्या 2 होती है।
  • (III) नीचले दायें जबड़े में इंसाइजर दांतों की संख्या 2 होती है।
  • (IV) नीचले बायें जबड़े में इंसाइजर दांतों की संख्या 2 होती है।


2. कैनाइन (Canine Teeth)-

  • कैनाइन दांत भोजन को चीरने फाड़ने के काम आते हैं।
  • कैनाइन दांत मांसाहारी जानवरों में अधिक विकसित होते हैं। अर्थात् जो जानवर भोजन को चीर फाड़ कर खाते हैं उनमें कैनाइन दांतों का विकास अधिक होता है।
  • मनुष्य में कैनाइन दांतों की संख्या 4 होती है। जैसे-
  • (I) ऊपरी दायें जबड़े में कैनाइन दांत की संख्या 1 होती है।
  • (II) ऊपरी बायें जबड़े में कैनाइन दांत की संख्या 1 होती है।
  • (III) नीचले दायें जबड़े में कैनाइन दांत की संख्या 1 होती है।
  • (IV) नीचले बायें जबड़े में कैनाइन दांत की संख्या 1 होती है।


3. प्रीमोलर (Premolar Teeth)-

  • प्रीमोलर दांत चबाने के काम आते हैं।
  • प्रीमोलर दांत मनुष्य में अधिक विकसित होते हैं।
  • मनुष्य में प्रीमोलर दांतों की संख्या 8 होती है। जैसे-
  • (I) ऊपरी दायें जबड़े में प्रीमोलर दांतों की संख्या 2 होती है।
  • (II) ऊपरी बायें जबड़े में प्रीमोलर दांतों की संख्या 2 होती है।
  • (III) नीचले दायें जबड़े में प्रीमोलर दांतों की संख्या 2 होती है।
  • (IV) नीचले बायें जबड़े में प्रीमोलर दांतों की संख्या 2 होती है।


4. मोलर (Molar Teeth)-

  • मोलर दांत भी चबाने के काम आते हैं।
  • मोलर दांत मनुष्य में अधिक विकसित होते हैं।
  • 3rd मोलर दांत अंतिम दांत होता हैं।
  • 3 मोलर दांत 18 वर्ष के बाद आता है।
  • 3 मोलर दांत को अक्कल दाढ भी कहते हैं।
  • 3 मोलर दांत मनुष्य के शरीर में अवशेषी होती है। अर्थात् किसी काम का नहीं होता है।
  • मनुष्य में मोलर दांतों की संख्या 12 होती है। जैसे-
  • (I) ऊपरी दायें जबड़े में मोलर दांतों की संख्या 3 होती है।
  • (II) ऊपरी बायें जबड़े में मोलर दांतों की संख्या 3 होती है।
  • (III) नीचले दायें जबड़े में मोलर दांतों की संख्या 3 होती है।
  • (IV) नीचले बायें जबड़े में मोलर दांतों की संख्या 3 होती है।


विशेष- मनुष्य के शरीर में सबसे विकसित (Highly Developed Teeth) दांत प्रीमोलर तथा मोलर दांत है। क्योंकि मनुष्य अपने दांतों का सर्वाधिक उपयोग चबाने के लिए करता है


गर्तदंती (Thecodont)-

  • मनुष्य के दांत जबड़ों में पाये जाने वाले गर्तों में पाये जाते है इसलिए मनुष्य के दांत गर्तदंती होते हैं।


विषमदंती (Heterodont)-

  • मनुष्य में चार अलग-अलग प्रकार के दांत पाये जाते हैं इसलिए मनुष्य के दांत विषमदंती होते हैं।

  • विषमदंती को हिटरोडोन्ट भी कहा जाता है।


इनेमल (Enamel)-

  • मनुष्य के शरीर में पाये जाने वाले दांत का सबसे बाहरी भाग डेंटिन प्रोटीन (Dentin Protein) का बना होता है।
  • डेंटिन प्रोटीन एक कठोर प्रोटीन होता है।
  • दांत का सबसे बाहरी भाग एक सफेद परत के द्वारा घिरा होता है जिसे इनेमल कहते हैं।
  • मुनष्य के दांत की बाहरी परत इनेमल मनुष्य के शरीर का सबसे कठोर भाग होता है।
  • इनेमल एक प्रकार का रसायन (Chemical) होता है।
  • मनुष्य के शरीर में पाये जाने वाला सबसे कठोर रसायन इनेमल ही होता है।


जबड़ा (Jaw)-

  • मनुष्य के जबड़े को 4 भागों में विभाजित किया जा सकता है जैसे-
  • 1. ऊपरी दायां जबड़ा
  • 2. ऊपरी बायां जबड़ा
  • 3. नीचला दायां जबड़ा
  • 4. नीचला बायां जबड़ा
  • मनुष्य में उपर्युक्त चारों जबड़ों में एक-एक मोलर दांत 18 वर्ष की आयु के बाद आता है। जो की मोलर दातों में भी सबसे अंतिम मोलर दांत होता है।


1. ऊपरी दायां जबड़ा-

  • मनुष्य के शरीर में ऊपरी दायें जबड़े में दातों की संख्या 8 होती है। जैसे-
  • (I) ऊपरी दायें जबड़े में इंसाइजर दांतों की संख्या 2 होती है।
  • (II) ऊपरी दायें जबड़े में कैनाइन दांतों की संख्या 1 होती है।
  • (III) ऊपरी दायें जबड़े में प्रीमोलर दांतों की संख्या 2 होती है।
  • (IV) ऊपरी दायें जबड़े में मोलर दातों की संख्या 3 होती है।


2. ऊपरी बायां जबड़ा-

  • मनुष्य के शरीर में ऊपरी दायें जबड़े में दातों की संख्या 8 होती है। जैसे-
  • (I) ऊपरी बायें जबड़े में इंसाइजर दांतों की संख्या 2 होती है।
  • (II) ऊपरी बायें जबड़े में कैनाइन दांतों की संख्या 1 होती है।
  • (III) ऊपरी बायें जबड़े में प्रीमोलर दांतों की संख्या 2 होती है।
  • (IV) ऊपरी बायें जबड़े में मोलर दातों की संख्या 3 होती है।


3. नीचला दायां जबड़ा-

  • मनुष्य के शरीर में ऊपरी दायें जबड़े में दातों की संख्या 8 होती है। जैसे-
  • (I) नीचले दायें जबड़े में इंसाइजर दांतों की संख्या 2 होती है।
  • (II) नीचले दायें जबड़े में कैनाइन दांतों की संख्या 1 होती है।
  • (III) नीचले दायें जबड़े में प्रीमोलर दांतों की संख्या 2 होती है।
  • (IV) नीचले दायें जबड़े में मोलर दातों की संख्या 3 होती है।


4. नीचला बायां जबड़ा-

  • मनुष्य के शरीर में ऊपरी दायें जबड़े में दातों की संख्या 8 होती है। जैसे-
  • (I) नीचले बायें जबड़े में इंसाइजर दांतों की संख्या 2 होती है।
  • (II) नीचले बायें जबड़े में कैनाइन दांतों की संख्या 1 होती है।
  • (III) नीचले बायें जबड़े में प्रीमोलर दांतों की संख्या 2 होती है।
  • (IV) नीचले बायें जबड़े में मोलर दातों की संख्या 3 होती है।


मनुष्य में दांतों की संख्या-

  • मनुष्य के शरीर में 18 वर्ष तक दांतों की संख्या 28 होती है।

  • मनुष्य के शरीर में 18 वर्ष के बात दांतों की संख्या 32 हो जाती है। क्योंकि 18 वर्ष के बाद मनुष्य में 4 मोलर दांत नये आते है जिन्हें अक्कल दाढ (Wisdom Teeth) कहा जाता है।

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Top Post Ad

Below Post Ad