Type Here to Get Search Results !

मानव जनन तंत्र (Human Reproductive System)

मानव जनन तंत्र या मानव प्रजनन तंत्र

(Human Reproductive System)


जनन या प्रजनन (Reproductive)-

➠मनुष्य के द्वारा अपने समान संतान उत्पन्न करने के गुण को जनन कहते है।

➠मनुष्य के द्वारा अपने समान संतान उत्पन्न करने का गुण या जनन मानव जाति के अस्तित्व के लिए आवश्यक  है।

➠जनन में नर और मादा दोनों का योगदान होता है। इसीलिए जनन को दो भागों में बाटा गया है। जैसे-

1. नर जनन तंत्र

2. मादा जनन तंत्र


जनन अंग (Reproductive Organs)-

➠मनुष्य में अपने समान संतान उत्पन्न करने के लिए या जनन में जो अंग काम में आते है उन अंगों को जनन अंग कहा जाता है।

➠मनुष्य में जनन अंग महिला में 10 से 16 वर्ष की आयु में क्रियाशील हो जाते है।

➠मनुष्य में जनन अंग पुरुष में 14 से 16 वर्ष तक की आयु में क्रियाशील हो जाते है।

➠पुरुष में 9 जनन अंग होते है। जैसे-

(I) वृषण (Testis)

(II) वृषण कोष (Scrotum)

(III) शुक्रवाहिनी या वासा (Vasa)

(IV) शुक्राशय (Seminal Vesicle)

(V) प्रोस्टेट ग्रंथि (Prostate Gland)

(VI) काउपर ग्रंथि (Cowper Gland)

(VII) मूत्र मार्ग (Ureter)

(VIII) शिश्न या लिंग (Penis)

➠महिला में 4 जनन अंग होते है।

(I) अंडाशय (Ovary)

(II) फैलोपियन नली (Fallopian Tube) या अंडवाहिनी (Oviduct)

(III) गर्भाशय (Uterus) या बच्चेदानी

(IV) योनी (Vagina)


मनुष्य में जनन अंगों का विकास-

➠महिला तथा पुरुष में जनन अंगों का आधा विकास (Half Development) जन्म से पहले हो जाता है अर्थात् महिला तथा पुरुष के जनन अंगों का आधा विकास महिला के गर्भाशय में 9 महीने के अवस्था के दौरान हो जाता है।

➠महिला तथा पुरुष में जनन अंगों का बचा हुआ आधा विकास जन्म के बाद होना चाहिए लेकिन जन्म के बाद महिला तथा पुरुष में जनन अंगों का विकास रुक जाता है। अर्थात् महिला तथा पुरुष में जनन अंगों का आधा विकास तो जन्म से पहले हो जाता है लेकिन जनन अंगों का रुका हुआ आधा विकास जन्म के बाद नहीं हो पाता है क्योंकि यह रुका हुआ आधा विकास जन्म के बाद एक विशेष आयु (Special Age) या योवनावस्था (Puberty) में ही होता है।

➠महिला में जनन अगों का आधा विकास महिला के गर्भाशय में 9 महीने की अवस्था के दौरान हो जाता है लेकिन जनन अंगों का बचा हुआ आधा विकास योवनावस्था (Puberty) में शुरु होता है।

➠महिला में जनन अंगों का रुका हुआ आधा विकास 10 वर्ष से लेकर 16 वर्ष तक की आयु में होता है।

➠महिला में जनन अंगों का रुका हुआ आधा विकास शुरू होने के बाद महिला में मासिक चक्र आना शुरू हो जाते है। तथा अण्डे का निर्माण होना शुरू हो जाता है।

➠पुरुष में जनन अंगों का रुका हुआ आधा विकास 14 वर्ष से 16 वर्ष तक की आयु में होता है।

➠पुरुष में जनन अंगों का रुका हुआ आधा विकास शुरू होने के बाद पुरुष में शुक्राणु बनने लगते है।


जनन तंत्र (Reproductive System)-

➠मनुष्य में पाये जाने वाले सभी जनन अंगों को संयुक्त रूप से जनन तंत्र कहते है।


नर जनन तंत्र (Male Reproductive System) की अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें।

मादा जनन तंत्र (Female Reproductive System) की अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें।

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Top Post Ad

Below Post Ad